Socialite and Mediapreneur

Er. Arpan Jain

Er A.S.Jain (Known as Arpan Jain, born on 29th April 1989) is a young, talented entrepreneur, and who is the CEO of SANS Technologies.

राजनीति के अजातशत्रु का यूँ चला जाना…..खल गया साहब

राजनीति के अजातशत्रु का यूँ चला जाना…..खल गया साहब *डॉ अर्पण जैन ‘अविचल’*   विधि के विधान के आगे विधिविद की भी नहीं चली, कर्क रोग ने जब से जकड़ा वित्त और न्याय मंत्री का दायित्व भी कमजोर होता चला गया, लंबे समय से जिंदगी और मौत के बीच संघर्ष करते-करते आखिरकार अरुण जेटली जी […]


सवाल तो विधान का था…

सवाल तो विधान का था… ●●●●●●●●●●●●●●●●●●●●●●●●●●●●●●●● ■ डॉ अर्पण जैन ‘अविचल’ हस्तिनापुर के अनुबंध और करार में बंधें गुरू द्रोणाचार्य ने जब वनवासी बालक और क्षेत्रीय काबिले के सरदार के पुत्र को धनुर्विद्या सीखाने से इंकार कर दिया तो वही वनवासी बलवान एकलव्य गुरु द्रोण की मूर्ति से धनुर्विद्या सीखने लगा और पारंगत होने पर […]


अहद प्रकाश जी को जन्मदिन की बधाई

शुभ जन्मदिवस अहद प्रकाश जी अक्षरों को टटोलते-टटोलते जो शब्द ढूंढ लेते है और शब्दों से गढ़ते है ग़ज़ल ,कविता या गीत, और कभी तो पुस्तकों से मकरंद ढूंढ कर लिख देते है समीक्षाएँ,सच ही है कि जो शब्दों से, भावनाओं से और पुस्तकों से इश्क करते हो उनका नाम *अहद प्रकाश जी* है। बड़े […]


हिन्दी योद्धा

हिन्दी योद्धा रत्नगर्भा भारत की धरा पर सदा से ही माँ, मातृभाषा और मातृभूमि के प्रति व्यक्ति के कर्तव्यबोध का व्याकरण बना हुआ है। हमारे यहाँ का ताना-बाना ही संस्कार और संस्कृति के प्रति अपने कर्तव्यों के निर्वाहन का बना है। हमारे यहाँ धर्मग्रन्थ भी ‘जननी जन्मभूमिश्च स्वर्गादपि गरीयसी’ के सिद्धांत का प्रवर्तन करते है। […]


भारतीय पत्रकारिता में इंदौर शहर का योगदान

भारतीय पत्रकारिता में इंदौर शहर का योगदान डॉ.अर्पण जैन ‘अविचल’ जब धरती के गहन, गंभीर और रत्नगर्भा होने के प्रमाण को सत्यापित किया जाएगा और उसमें जब भी मालवा या कहें इंदौर का जिक्र आएगा निश्चित तौर पर यह शहर अपने सौंदर्य और ज्ञान के तेज से बखूबी स्वयं को साबित करेगा। हिंदी या कहें […]


वह बिनती लोहा…. इंदौर के पथ पर

वह बीनती लोहा…. इंदौर के पथ पर –डॉ अर्पण  जैन ‘अविचल’ भरी दुपहरी में सूर्य के ताप को सहती, जिसके तन पर कपड़े भी मजबूरी ने फाड़ रखे हो, चेहरे की झुर्रियाँ उम्र की ढलान की ओर साफ तौर पर इशारा कर रही है, जिम्मेदारियों का बोझ उठाते-उठाते थके हुए कंधे जो पति के आवश्यकता […]


अबकि बार दिव्यांग को मौका दो यार

बोलने सुनने वालों को देखा अब की बार करने वालों को मौका *–डॉ. अर्पण जैन ‘अविचल’* जी हाँ, सात दशकों से लोकतंत्र निर्माण की प्रक्रिया में भारत की जनता ने हर उस व्यक्ति पर भरोसा किया जिसने सपने दिखाये, जिसने नई राह बताई, नए लोग जोड़े, पर उनमें से सभी यानि शत प्रतिशत तो कामयाब […]


सूतक लग चुका है… सनद रहें

सूतक लग चुका है…. सनद रहें –डॉ.अर्पण जैन ‘अविचल’ चुनावी मौसम खुमार पर आया, शहर के व्यस्ततम क्षेत्र राजवाड़े से माँ अहिल्या की प्रतिमा पर पहले बम के संदेह में जाँच करवाने के बाद भाजपा के मुखिया अमित शाह ने अपने चुनावी अभियान के तहत सड़क मार्ग से जनसंपर्क अभियान का प्रारंभ कर दिया । […]


हिन्दी के सम्मान में, हर भारतीय मैदान में जैसी अलख जगाने वाले का नाम डॉ जैन

कहानी: अनथक हिन्दी योद्धा डॉ अर्पण जैन ‘अविचल’ से खास भेंट हिन्दी के सम्मान में, हर भारतीय मैदान में जैसी अलख जगाने वाले का नाम डॉ जैन कहानी एक ऐसे व्यक्ति की जो हिन्दी भाषा को भारत में ही सम्मान स्वरुप राष्ट्रभाषा बनाने के लिए संघर्षरत है, जो संगणक विज्ञान अभियंता होने के बावजूद स्थापित […]


मातृभाषा.कॉम | matrubhashaa.com के बारे में

मातृभाषा.कॉम | matrubhashaa.com मातृभाषा.कॉम के बारे में मातृभाषा.कॉम मातृभाषा.कॉम हिन्दी के प्रचार और प्रसार हेतु एक अंतरताना (वेबसाइट) है जिसका उद्देश्य है हिन्दी के नवोदित और स्थापित रचनाकारों की रचनाओं को सहेज कर लोगों तक ऑनलाइन उपलब्ध कराना, जिससे हिंदी के प्रचार के साथ-साथ रचनाकारों के लेखन से जनसामान्य परिचित हो सके। पटल पर लगभग […]


Inline
Inline